मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022: ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व दिशा निर्देश- pmmodiyojana.in

Mukhyamantri Rajshri Yojana Online Registration | मुख्यमंत्री राजश्री योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म | Mukhyamantri Rajshri Yojana Application Status

लड़कियों के उत्थान के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। जिसके लिए सरकार तरह-तरह की योजनाएं संचालित करती है। हाल ही में राजस्थान सरकार ने

मुख्यमंत्री राजश्री योजना शुरू की है  । इस योजना के माध्यम से  समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करने का प्रयास किया जाएगा । इस लेख के माध्यम से आपको  mukhyamantri Rajshri Yojana की पूरी जानकारी प्रदान की जाएगी । इस लेख को पढ़कर आप राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना  के लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, सुविधाएँ, आवेदन कैसे करें आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे । इसलिए यदि आप इसका लाभ प्राप्त करना चाहते हैं।मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022 तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

Mukhyamantri Rajshri Yojana  2022

राजस्थान सरकार द्वारा वर्ष 2016-17 में मुख्यमंत्री राजश्री योजना  शुरू की गई है । इस योजना के माध्यम से समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करने का प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा, बालिकाओं के स्वास्थ्य और शैक्षिक स्तर में भी सुधार होगा। इस योजना का लाभ 1 जून 2016 को या उसके बाद जन्म लेने वाली बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को ₹ 50000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता बालिकाओं को 6 किश्तों में प्रदान की जाएगी। यह योजना बालिकाओं के सर्वांगीण विकास में कारगर साबित होगी।इसके अलावा यदि बालिका विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश लेती है तो इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। ताकि राज्य के नागरिकों को बालिकाओं को शिक्षित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। यह योजना समाज में बालिकाओं को समानता का अधिकार भी प्रदान करेगी।

Chief Minister Rajshree Yojana

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का मुख्य उद्देश्य समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना है। बालिकाओं का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करना। इसके अलावा, इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के पालन-पोषण, शिक्षा और स्वास्थ्य के मामले में लिंक भेदभाव को रोकने और  बालिकाओं की बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य को भी सुनिश्चित किया जाएगा। यह योजना संस्थागत प्रवास को बढ़ावा देकर मातृ मृत्यु दर को कम करने में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना से बालिकाओं की मृत्यु दर में कमी आएगी और लिंगानुपात में सुधार होगा।मुख्यमंत्री राजश्री योजना भी बालिका विद्यालयों में नामांकन और ठहरने को सुनिश्चित करेगी और समाज में बालिकाओं को समान अधिकार देगी।

Key Highlights  Of Mukhyamantri Rajshri Yojana 2022

योजना का नाम Chief Minister Rajshree Yojana
किसने शुरू किया राजस्थान सरकार
लाभार्थी राजस्थान के नागरिक
उद्देश्य बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण का विकास करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें
वर्ष 2022
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन
राज्य राजस्थान Rajasthan

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत वित्तीय सहायता

  • राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में जन्म लेने वाली बालिका के माता-पिता को संस्थागत प्रसव के लिए ₹ 2500 की राशि प्रदान की जाएगी। यह राशि जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रदान की जाएगी।
  • बालिका के एक वर्ष पूर्ण होने पर बालिका के नाम ₹ 2500 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • किसी भी सरकारी स्कूल की पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर बालिका को ₹4000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • किसी भी सरकारी स्कूल की छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर बालिका को ₹5000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा किसी भी सरकारी स्कूल में कक्षा 10 में प्रवेश लेने वाली बालिका के नाम पर ₹11000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • अगर लड़की 12वीं पास करती है तो ऐसी स्थिति में लड़की को ₹25000 की राई प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत मिलने वाले लाभ

लाभ का समय लाभ राशि
जन्म के समय ₹2500
1 वर्ष के टीकाकरण पर ₹2500
पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर ₹4000
छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर ₹5000
10वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर ₹11000
12वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर ₹25000

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ और विशेषताएं

  • राजस्थान सरकार द्वारा वर्ष 2016-17 में मुख्यमंत्री राजश्री योजना  शुरू की गई है ।
  • इस योजना के माध्यम से समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करने का प्रयास किया जाएगा।
  • इसके अलावा, बालिकाओं के स्वास्थ्य और शैक्षिक स्तर में भी सुधार होगा।
  • इस योजना का लाभ  1 जून 2016 को या उसके बाद जन्म  लेने वाली बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा ।
  • इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को ₹ 50000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस
  • बालिकाओं को 6 किश्तों में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह योजना बालिकाओं के सर्वांगीण विकास में कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा विभिन्न कक्षाओं में बालिकाओं के प्रवेश लेने पर इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।
  • ताकि राज्य के नागरिकों को बालिकाओं को शिक्षित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।
  • यह योजना समाज में बालिकाओं को समानता का अधिकार भी प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • बालिका की आयु का 1 वर्ष पूरा करने के बाद ऑनलाइन टीकाकरण सुनिश्चित करने के बाद लाभ की राशि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा माता-पिता या अभिभावक के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी।
  • जिसके लिए बच्ची के जन्म के समय यूनिक आईडी नंबर उपलब्ध कराया जाएगा।
  • पहली और दूसरी किस्त प्राप्त करने के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • दूसरी किश्त टीकाकरण के प्रमाण के रूप में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ बाल स्वास्थ्य कार्य या ममता कार्ड को अपलोड करने के बाद प्रदान की जाएगी।
  • बालिका को प्रथम एवं द्वितीय किश्त का लाभ चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा वर्तमान में संचालित शुभ लक्ष्मी योजना के अनुसार प्रदान किया जायेगा।
  • बालिका के प्रथम श्रेणी में प्रवेश लेने के बाद तीसरी किश्त की राशि प्रदान की जाएगी। तीसरी किस्त प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप में ऑनलाइन आवेदन ईमित्र या अटल सेवा केंद्र या अन्य उपलब्ध विकल्पों के माध्यम से किया जाएगा।
  • आवेदन के साथ-साथ मदर चाइल्ड प्रोटेक्शन कार्ड, स्कूल में प्रवेश का प्रमाण पत्र और दो बच्चों से संबंधित सभी घोषणाओं की एक प्रति अपलोड करना अनिवार्य है।
  • प्राप्त सभी ऑनलाइन आवेदन कार्यक्रम अधिकारी द्वारा स्वीकार किए जाएंगे।
  • लाभ की राशि लाभार्थी के खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना के तहत चौथा, पांचवां, छठा और सातवां पाने के लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन करना होगा।
  • आवेदन के साथ विद्यालय में प्रवेश प्रमाण पत्र की प्रति अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • इसके अलावा 12वीं पास करने के बाद अंतिम तालिका की कॉपी आवेदन के साथ अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना का प्रशासनिक विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग होगा।
  • इस योजना की समीक्षा संबंधित जिला कलेक्टर द्वारा प्रत्येक माह में एक बार की जायेगी।
  • इस योजना के सफल संचालन के लिए राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे और दिशा-निर्देशों में संशोधन किया जाएगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पात्रता

  • इस योजना का लाभ उन सभी लड़कियों को दिया जाएगा जिनका जन्म 1 जून 2016 को या उसके बाद हुआ है।
  • लाभार्थी के माता-पिता के पास आधार या भामाशाह कार्ड होना अनिवार्य है। यदि लाभार्थी के माता-पिता के पास पहली किश्त के समय आधार या भामाशाह कार्ड नहीं है, तो उस स्थिति में संस्थागत प्रसव के आधार पर पहली किस्त का लाभ प्रदान किया जाएगा। लेकिन दूसरी किस्त का लाभ लेने से पहले आधार और भामाशाह कार्ड की कॉपी उपलब्ध कराना जरूरी है।
  • केवल राजस्थान के मूल निवासी ही इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं। ऐसे सभी प्रसव जिनका संस्थागत प्रसव राज्य के बाहर हुआ है और जननी सुरक्षा योजना का लाभ प्राप्त हुआ है, तो बालिका के जीवित जन्म का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य है। ऐसी स्थिति में इस योजना का लाभ देशी क्षेत्राधिकार वाले शासकीय चिकित्सा संस्थान को देय होगा। इस योजना का लाभ राज्य के बाहर के प्रसूता को नहीं दिया जाएगा।
  • संस्थागत प्रसव में जन्म लेने वाली सभी बालिकाओं को पहली और दूसरी किस्त का लाभ दिया जाएगा।
  • तीसरी और बाद की किश्तों का लाभ एक परिवार में अधिकतम दो जीवित संस्थाओं तक सीमित होगा।
  • इसके अलावा पहली दो किश्तों के अलावा अन्य किश्तों का लाभ उन्हीं लड़कियों को मिलेगा जिनके परिवार में रहने वाले संस्थानों की संख्या 2 से अधिक नहीं होगी।
  • एक या दो किश्तों का लाभ प्राप्त करने वाले माता-पिता की बालिका की मृत्यु के मामले में, ऐसे माता-पिता के कुल जीवित बच्चों में से मृत बालिकाओं की संख्या कम हो जाएगी और ऐसे माता-पिता प्राप्त करने के हकदार होंगे एक बालिका का लाभ। और अगर वह जन्म लेती है तो वह लाभ के लिए पात्र होगी।
  • प्रथम किश्त का लाभ प्राप्त करने के लिए राज्य एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संस्थागत प्रसव हेतु अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रस्ताव से जन्म लेना आवश्यक होगा।
  • दूसरी किस्त का लाभ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड या ममता कार्ड के अनुसार सभी टीकाकरण के आधार पर दिया जायेगा.
  • समेकित बाल विकास सेवाओं के माध्यम से सभी प्रथम किश्त लाभार्थी बालिकाओं को आंगनबाडी केन्द्र से जोड़ने का भी प्रयास किया जायेगा।
  • योजना की अगली किश्त अब तब प्रदान की जाएगी जब अन्य किश्तों की राशि लाभार्थी को पूर्व में प्राप्त हो चुकी हो।
  • इस योजना का लाभ बालिकाओं को तभी प्रदान किया जाएगा जब वह राज्य सरकार द्वारा संचालित शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक स्तर पर शिक्षित हों।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • Aadhar card of parents
  • parent’s bhamashah card
  • बालिका का आधार कार्ड
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड
  • ममता कार्ड
  • स्कूल प्रवेश प्रमाण पत्र
  • दो बच्चों से संबंधित स्वघोषणा पत्र
  • 12वीं कक्षा की मार्कशीट
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको निकटतम ई-मित्र या अटल सेवा केंद्र की  आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा । 
  • अब आपको ई-मित्र या अटल सेवा केंद्र में आवेदन से संबंधित सभी महत्वपूर्ण और जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • आपका फॉर्म ऑपरेटर द्वारा भरा जाएगा।
  • सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज भी ऑपरेटर द्वारा अपलोड किए जाएंगे।
  • आवेदन पत्र जमा करने के बाद, आपको एक संदर्भ संख्या प्रदान की जाएगी।
  • इस रेफरेंस नंबर के जरिए आप अपने आवेदन की स्थिति को ट्रैक कर पाएंगे।
  • इस तरह आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत आवेदन कर सकेंगे।

योजना से संबंधित पात्रता की जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

मुख्यमंत्री राजश्री योजना
  • इसके बाद आपको विभाग में महिला एवं बाल विकास विभाग का चयन करना होगा।
  • अब आपको पात्रता योजना में मुख्यमंत्री राजश्री योजना के विकल्प का चयन करना है।
  • जैसे ही आप इन दोनों विकल्पों का चयन करते हैं, आपकी स्क्रीन पर पात्रता से संबंधित जानकारी खुल जाएगी।

 

 

https://pmmodiyojana.in

1 thought on “मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022: ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व दिशा निर्देश- pmmodiyojana.in”

Leave a Comment