Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, योग्यता व लाभ

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana :- दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते है की प्रत्येक राज्य की सरकार अपने राज्य की नागरिको के लिए कोई न कोई योजना को शुरू करती है | इसी प्रकार हिमाचल सरकार ने भी “स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजनाको शुरू किया है | यदि आप “Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022″ का लाभ लेना चाहते है तो इस पोस्ट को पूरा पड़े |

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022

 देश की केंद्र सरकार और राज्य सरकार समय-समय पर देश के नागरिकों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए विभिन्न योजनाएं जारी करती हैं ताकि उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान की जा सके। ऐसी ही एक योजना हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई है, जिसका नाम  “Swarna Jayanti Anushikshan Yojana है । राज्य की आर्थिक स्थिति से कमजोर गरीब बच्चों के लिए “स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना”  बनाई गई है। इस योजना के तहत छात्रों को उच्च शिक्षा प्रदान करने के लिए कोचिंग प्रदान की जाएगी। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो उन्हें रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करनी होगी।पंजीकरण करने के लिए आवेदक अपने मोबाइल और कंप्यूटर के माध्यम से ऑनलाइन पोर्टल पर जा सकते हैं।

 Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana apply process

आज हम आपको योजना से संबंधित सभी जानकारी बताने जा रहे हैं जैसे: “स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना” क्या है, योजना के लाभ और विशेषताएं, पात्रता, उद्देश्य, आवश्यक दस्तावेज, स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना आवेदन आदि। संबंधित अधिक जानकारी जानने के लिए यह, हमारे द्वारा लिखे गए लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

 

गोल्डन जुबली ट्यूशन योजना

‘स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” 5 सितंबर 2021 को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर द्वारा शुरू की गई थी। इसके तहत राज्य के ऐसे छात्र जो उच्च स्तर पर शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं लेकिन आर्थिक स्थिति के कारण कमजोर होने के कारण शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ हैं, उन्हें मुफ्त कोचिंग प्रदान करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाना होगा। योजना के माध्यम से राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए एनईईटी और जेईई की मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी। बच्चों को नि:शुल्क कोचिंग दी जाएगी। राज्य के 2 लाख छात्र “Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022″ का लाभ उठा सकेंगे ।

जो छात्र इस योजना का लाभ देना चाहते हैं, उन्हें बता दें कि इसमें किसी भी प्रकार की अतिरिक्त लागत या शुल्क जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी। यह योजना दो चरणों में लागू की जाएगी। यह निःशुल्क कोचिंग शिक्षा विभाग द्वारा तैयार किए गए प्लेटफॉर्म के माध्यम से हर घर पाठशाला के माध्यम से प्रदान की जाएगी। 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को शनिवार और रविवार को कोचिंग में शामिल होना है।

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 की मुख्य विशेषताएं

राज्य हिमाचल प्रदेश
योजना गोल्डन जुबली ट्यूशन योजना
के माध्यम से Himachal Pradesh Governor Rajendra Vishwanath Arlekar
योजना प्रारंभ तिथि 5 सितंबर 2021
साल 2022
लाभ लेने वाले सरकारी स्कूल में पढ़ रही छात्राएं व छात्राएं
उद्देश्य जेईई और एनईईटी के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान करना
बजट 5 करोड़
आवेदन मोड ऑनलाइन और ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट जल्द ही सूचित किया जाएगा

 

Swarna Jayanti Anushishan Yojana 2022 शुरू करने का उद्देश्य

योजना शुरू करने का उद्देश्य राज्य के जरूरतमंद बच्चों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान करना है। आप जानते ही होंगे कि राज्य में कई ऐसे बच्चे हैं जो आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं, लेकिन अपनी कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण वे मेडिकल या इंजीनियरिंग जैसी परीक्षाएं पास नहीं कर पाते हैं क्योंकि उनके पास कोचिंग लेने के लिए पैसे नहीं होते हैं लेकिन इसके माध्यम से उस योजना से छात्र-छात्राएं नीट और जेईई की कोचिंग आसानी से ले सकेंगे। छात्रों के लिए विभिन्न कोचिंग सेंटर स्थापित किए जाएंगे ताकि अधिक से अधिक छात्र अपनी शिक्षा पूरी कर सकें और अपने पैरों पर खड़े हो सकें। आपको बता दें, यह योजना पूरे भारत में 15 सितंबर से लागू कर दी गई है।

Benefits and features to be received from Swarna Jayanti Anushishan Yojana 2022

  • कोचिंग के लिए वीडियो शिक्षा विभाग के राज्य संसाधन समूह द्वारा तैयार किया जाएगा।
  • यह योजना राज्य की आर्थिक स्थिति से गरीब बच्चों के लिए बनाई गई है।
  • इस योजना के तहत छात्रों को उच्च शिक्षा प्रदान करने के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • सरकार को गैर सरकारी संगठनों से भी मदद मिलेगी।
  • Swarna Jayanti Anushishan Yojana was launched on 5th September 2021 by the Governor of Himachal Pradesh, Rajendra Vishwanath Arlekar.
  • योजना के माध्यम से राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए नीट और जेईई की कोचिंग दी जाएगी।
  •  राज्य के 2 लाख छात्र स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना 2022  का लाभ उठा सकेंगे ।
  • इस योजना का लाभ 9वीं से 12वीं तक के छात्र उठा सकेंगे।
  • यह निःशुल्क कोचिंग शिक्षा विभाग द्वारा तैयार किए गए प्लेटफॉर्म के माध्यम से हर घर पाठशाला के माध्यम से प्रदान की जाएगी।
  • पहले चरण में विज्ञान और गणित की कोचिंग दी जाएगी।
  • योजना के संचालन के लिए 5 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है।
  • आपको बता दें, 11 परीक्षा पास करने के बाद 12 में प्रवेश लेने के बाद छात्रों की परीक्षा ली जाएगी, जो इस परीक्षा में उत्तीर्ण होंगे, केवल उन 10% छात्रों का चयन अंतिम कोचिंग के लिए किया जाएगा।

[रजिस्ट्रेशन] मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2022: ऑनलाइन फॉर्म, Udyam Kranti Yojana

दिल्ली रोजगार मेला 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, दिल्ली जॉब फेयर फॉर्म डाउनलोड April 6, 2022 by Tech Zone

Eligibility for Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना की पात्रता

जानने के लिए  हमारे द्वारा लिखे गए बिंदुओं को पूरा पढ़ें। जिसके बाद आप पात्रता पढ़ सकते हैं और पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के मूल निवासी छात्र और छात्राएं इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • केवल सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को ही इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए पात्र माना जाएगा।
  • केवल 9वीं से 12वीं तक के छात्र ही स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और मुफ्त कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं।
  • छात्रों को सिर्फ नीट और जेईई की कोचिंग दी जाएगी।

Important Documents of Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

आज हम आपको योजना के लिए आवेदन करने के लिए आवेदन पत्र में पूछे गए सभी दस्तावेजों की जानकारी देने जा रहे हैं, जिससे आप आसानी से योजना का लाभ उठा सकेंगे। दस्तावेज़ इस प्रकार है: 

Aadhar Card मूल निवास प्रमाण पत्र आय प्रमाण पत्र
पंजीकृत मोबाइल नंबर आयु प्रमाण पत्र पहचान पत्र
पासपोर्ट साइज फोटो अंक तालिका

 

स्वर्ण जयंती ट्यूशन योजना के लिए आवेदन कैसे करें

अगर आप भी ‘स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” को लागू करके लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार ने अभी इस योजना को जारी करने की घोषणा की है। योजना के लिए आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट अभी तक लॉन्च नहीं की गई है। जब भी सरकार द्वारा इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट लांच की जाएगी और इसकी ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी तो हम आपको अपने लेख के माध्यम से इसकी जानकारी देंगे, जिसके बाद आप आसानी से इसकी आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर पाएंगे।

स्वर्ण जयंती ट्यूशन योजना से संबंधित प्रश्न / उत्तर

क्या अन्य राज्यों के छात्र-छात्राएं भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं?

नहीं, अन्य राज्यों के छात्र और छात्राएं स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं, केवल हिमाचल प्रदेश के मूल छात्रों को ही इस योजना के लिए पात्र माना जाएगा।

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना  2022  का लाभ राज्य के किन बच्चों को  प्रदान किया जायेगा ?

योजना का लाभ उन गरीब बच्चों को प्रदान किया जाएगा जो राज्य की आर्थिक स्थिति से कमजोर हैं।

What documents will be required for Swarna Jayanti Anushishan Yojana?

योजना के लिए जिन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, उनके बारे में हमने आपको ऊपर अपने लेख में जानकारी प्रदान की है, जानकारी जानने के लिए लेख को पूरा पढ़ें।

स्वर्ण जयंती ट्यूशन योजना क्या है?

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 5 सितंबर 2021 को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर द्वारा शुरू की गई थी। योजना के तहत मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए छात्रों को नीट और जेईई की कोचिंग दी जाएगी।

योजना के लिए आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

योजना की आधिकारिक वेबसाइट अभी तक सरकार द्वारा लॉन्च नहीं की गई है, आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च होते ही हम आपको सूचित करेंगे।

हमने आपको अपने लेख में  “स्वर्ण जयंती शिक्षा योजना 2022” से संबंधित सभी जानकारी  हिंदी में विस्तार से बताई है, अगर आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं या आपका इससे संबंधित कोई प्रश्न या जानकारी है। तो आप हमें मैसेज कर सकते हैं। हम निश्चित रूप से आपके सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे।

Leave a Comment